Online Awareness by Diksha Agrawal

दूर रहो इन जंजालो से
ऑनलाइन के बहकावे से
ये सब एक भटकाव है
ये मीठी मीठी बातें करके
पहले तुम्हे फसाएंगे
फिर चुपके से आके तुम्हे
मन में जगह बनाएंगे
पर मत आना तुम इनकी बातों में
ये सब इनकी साज़िश है बच्चो
ना आना इनकी चाल में
जो करे कोई ग़लत बात ये
बतलाना तुम पापा मम्मी और भाई को
प्यार प्यार का ढोंग रचा के
ये तुम्हे खूब उलझाएंगे
पर तुम भी हमेशा याद रखना
ऑनलाइन एक फसाद है
अगर आ जाए कोई पसंद तो
मा को भी मिल वा देना
बन जाए कोई दोस्त तो
पापा को भी दिखला देना
दूर रहो इन जंजालों से
ये सब एक भटकाव है
मांगे कोई गंदी फोटो
बिल्कुल नहीं दिखानी है
तुरंत शकायत लेके उसकी
मम्मी के पास जानी है
प्यारे बच्चो ध्यान से सुनना
अपनी इस दीदी की बातो को

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.