जागरूक बने by Rakshit Aggarwal

आजकल के इस सामाजिक युग में बहुत सी ऐसी बातें हैं जिन बातों को कहने या करने से मनुष्य अभी भी हिचकिचाता है। इस वर्तमान युग में, ऐसी बहुत सी बातें हैं जिस पर इस मनुष्य को विवेचना करने की जरूरत है, जिसमें से एक बात है “यौन उत्पीड़न” (Sexual Abuse) यह एक ऐसी समस्या है जिससे हमारा समाज बहु पूर्ण रूप से ग्रसित है। यह समाज के हर एक कोने में मिलता है चाहे वह कामकाजी जगह हो या घर, चाहे हमारा समाज कितना भी आधुनिक हो गया हो लेकिन यह कुछ ऐसे विषय हैं जिन पर भारतीय समाज एवं लोग बात करने से झिझकते हैं। यौन उत्पीड़न का सबसे बड़ा रूप हमें इंटरनेट पर दिखता है, जहां पर नाना प्रकार से ऐसी दुखद पूर्ण एवं भावपूर्ण गतिविधियां संचालित होती हैं। हमारे देश की 50% से अधिक जनसंख्या इंटरनेट का इस्तेमाल करती है, और इसमें लगभग 13% हिस्सेदारी आ बालिक बच्चों की है और आपको यह जानकर हैरानी होगी कि हर घंटे 5 बच्चे यौन उत्पीड़न का शिकार होते हैं। हमारे भारतीय समाज को यह समझने की जरूरत है कि इस बढ़ती विपदा के खिलाफ हम एकजुट होकर जागरूक हो और हम यह चाहते हैं कि हमारे अभिभावक, शिक्षक एवं विद्यार्थी भी इस समाज सुधारक गतिविधि में अपना भावपूर्ण कर्तव्य निभाएं और हमारे समाज को जागरूक करें। सबसे पहले हमें यौन उत्पीड़न को समझने के लिए इंटरनेट के फायदे एवं नुकसान को भी गहराई से समझना होगा उसके दुष्प्रभाव एवं सुप्रभाव का विवेचन करना होगा।

हम लोगों को इस समाज के कुपोषण से बचने के लिए कुछ सावधानियां बरतनी होंगी, जैसे: –

१) अजनबी से बात करते वक्त अपनी निजी जानकारी उससे ना साझा करें, उदाहरण के तौर पर – मोबाइल नंबर पता, ईमेल, पासवर्ड इत्यादि।

२) अगर सोशल मीडिया ऐप के द्वारा किसी से परेशानी होने पर अपने बड़े या माता-पिता या अभिभावक से संपर्क करें।

किसी अपराध को ना रोकना तथा उसे होने देना खुद अपराध में भागीदारी होना है।
किसी भी तरह का संदेह होने पर इन हेल्पलाइन पर संपर्क करें –

पुलिस – 100
चाइल्डलाइन – 1098
भारत सरकार का ऑनलाइन साइबर-क्राइम पोर्टल- https://cybercrime.gov.in/Default.aspx
POCSO इ-बॉक्स-
https://www.ncpcr.gov.in/index2.php
बचपन बचाओ आंदोलन कंप्लेंट- 1800-102-7222

2 Replies to “जागरूक बने by Rakshit Aggarwal”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.